भ्रष्ट सरपंच सचिव की मनमानी के चलते गुणवत्ता विहीन रोड का हो रहा निर्माण

भ्रष्ट पंचायती राज में शमशान घाट भी बना भ्रष्टाचार का जरिया

सरपंच सचिव की मनमानी के चलते गुणवत्ता विहीन रोड का हो रहा निर्माण

ग्रामीणों ने की सीएम हेल्पलाइन में शिकायत, शिकायत बन्द करवाने के लिए जनपद में बैठे अधिकारी बना रहे दबाव

मामला केवलारी जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत नागाबाबा घंसौर का है

शोहरत की बड़ी-बड़ी ऊंचाइयां छू लो लेकिन जीवन की अंतिम घड़ी में हर किसी को मुक्ति पाने के लिए मुक्तिधाम जाना ही पड़ता है पर अगर उस मुक्तिधाम में भी भ्रष्टाचारी निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार करने लगे तो उस व्यक्ति को किस नाम से बुलाया जाएगा?

- Advertisement -

केवलारी। सिवनी जिले के जनपद पंचायत केवलारी के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत नागा बाबा घंसौर में इन दिनों सरपंच सचिव एवं रोजगार सहायक की तिगड़ी के चलते खुलेआम भ्रष्टाचार का खेल खेला जा रहा है, जिसमें शासन प्रशासन की उदासीनता साफ झलक रही है, लगातार जनपद स्तर के अधिकारियों से लेकर सीएम हेल्पलाइन में शिकायतों के बावजूद भी भ्रष्ट पंचायत कर्मियों के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है, जिसके परिणामस्वरूप इन पंचायतकर्मियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं।

आपको बता दें कि दुनिया में इंसान जितनी भी तरक्की कर ले बड़ी-बड़ी शोहरत हासिल कर ले पर जीवन के अंतिम घड़ी में इंसान को मुक्ति मुक्तिधाम से ही मिलती है और इसी मुक्तिधाम के निर्माण कार्य में सी.सी. रोड का निर्माण किया जा रहा है, जिसमे व्यापक रूप से भ्रष्टाचार किया जा रहा है, देखा गया कि उक्त रोड बगैर बेस के बनाई गई है, साथ ही घटिया मटेरियल का उपयोग किया गया है, जिससे रोड,, साल छः महीने में,, ही खराब होने की सम्भावना है।
ग्रामीणों ने बताया कि जैसे ही निर्माण कार्य शुरू हुआ उसकी शिकायत जनपद पंचायत स्तर के अधिकारियों को दूरभाष पर बताया गया कि सी.सी. रोड निर्माण में ना ही तो बेस डाला गया है और ना ही गुणवत्ता युक्त मटेरियल का इस्तेमाल किया जा रहा है, काली डस्ट के साथ बगैर बैश के रोड बनाई जा रही है, जिसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में भी की गई पर निर्माण कार्य में सुधार तो दूर जनपद स्तर के अधिकारी सीएम हेल्पलाइन में की गई शिकायत को कटवाने के लिए डराते धमकाते रहते हैं ।
सवाल ये उठता है कि पूरे मामले पर जनपद पंचायत केवलारी के प्रभारी सीईओ भी मीडिया के सवालों से बचते नजर आए, बरहाल केवलारी एसडीएम ने इस पूरे मामले पर जांच कर कार्रवाई की बात कही है।

 

 

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

 

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

भ्रष्ट पंचायती राज में शमशान घाट भी बना भ्रष्टाचार का जरिया

सरपंच सचिव की मनमानी के चलते गुणवत्ता विहीन रोड का हो रहा निर्माण

ग्रामीणों ने की सीएम हेल्पलाइन में शिकायत, शिकायत बन्द करवाने के लिए जनपद में बैठे अधिकारी बना रहे दबाव

मामला केवलारी जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत नागाबाबा घंसौर का है

शोहरत की बड़ी-बड़ी ऊंचाइयां छू लो लेकिन जीवन की अंतिम घड़ी में हर किसी को मुक्ति पाने के लिए मुक्तिधाम जाना ही पड़ता है पर अगर उस मुक्तिधाम में भी भ्रष्टाचारी निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार करने लगे तो उस व्यक्ति को किस नाम से बुलाया जाएगा?

केवलारी। सिवनी जिले के जनपद पंचायत केवलारी के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत नागा बाबा घंसौर में इन दिनों सरपंच सचिव एवं रोजगार सहायक की तिगड़ी के चलते खुलेआम भ्रष्टाचार का खेल खेला जा रहा है, जिसमें शासन प्रशासन की उदासीनता साफ झलक रही है, लगातार जनपद स्तर के अधिकारियों से लेकर सीएम हेल्पलाइन में शिकायतों के बावजूद भी भ्रष्ट पंचायत कर्मियों के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है, जिसके परिणामस्वरूप इन पंचायतकर्मियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं।

आपको बता दें कि दुनिया में इंसान जितनी भी तरक्की कर ले बड़ी-बड़ी शोहरत हासिल कर ले पर जीवन के अंतिम घड़ी में इंसान को मुक्ति मुक्तिधाम से ही मिलती है और इसी मुक्तिधाम के निर्माण कार्य में सी.सी. रोड का निर्माण किया जा रहा है, जिसमे व्यापक रूप से भ्रष्टाचार किया जा रहा है, देखा गया कि उक्त रोड बगैर बेस के बनाई गई है, साथ ही घटिया मटेरियल का उपयोग किया गया है, जिससे रोड,, साल छः महीने में,, ही खराब होने की सम्भावना है।
ग्रामीणों ने बताया कि जैसे ही निर्माण कार्य शुरू हुआ उसकी शिकायत जनपद पंचायत स्तर के अधिकारियों को दूरभाष पर बताया गया कि सी.सी. रोड निर्माण में ना ही तो बेस डाला गया है और ना ही गुणवत्ता युक्त मटेरियल का इस्तेमाल किया जा रहा है, काली डस्ट के साथ बगैर बैश के रोड बनाई जा रही है, जिसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में भी की गई पर निर्माण कार्य में सुधार तो दूर जनपद स्तर के अधिकारी सीएम हेल्पलाइन में की गई शिकायत को कटवाने के लिए डराते धमकाते रहते हैं ।
सवाल ये उठता है कि पूरे मामले पर जनपद पंचायत केवलारी के प्रभारी सीईओ भी मीडिया के सवालों से बचते नजर आए, बरहाल केवलारी एसडीएम ने इस पूरे मामले पर जांच कर कार्रवाई की बात कही है।

 

 

[avatar]