छपारा के वैनगंगा नदी में मिला 19 वर्षीय आईटीआई छात्रा का शव

तीन दिन से लापता आईटीआई कॉलेज की छात्रा अनामिका चौहान ने वैनगंगा नदी में लगाई छलांग

- Advertisement -

सिवनी। तीन दिन से लापता आईटीआई कॉलेज की छात्रा अनामिका चौहान का शव शुक्रवार को वैनगंगा नदी छपारा में मिला। शव मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई, वही छपारा पुलिस ने पंचनामा कार्यवाही के बाद शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। साथ ही मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है।

छपारा थाना प्रभारी सौरव पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि 3 दिन से आईटीआई छात्रा लापता थी। छात्रा गांव गंगाढाना निवासी अनामिका पिता मानसिंह चौहान (19) छपारा में किराए के कमरे में रहकर आईटीआई कॉलेज की पढ़ाई कर रही थी। 21 अगस्त को आईटीआई कॉलेज का परिणाम आया था इसमें वह अनुत्तीर्ण हो गई थी। इसके बाद वह दोपहर से अपने कमरे से निकलकर किसी को कुछ भी बताए कहीं चली गई। देर शाम तक जब वापस नहीं लौटी तो उसकी सहेलियों ने अनामिका के परिजनों को सूचना दी। जहां परिजनों ने गुमशुदगी दर्ज कराई।

शुक्रवार को छपारा वैनगंगा नदी के भरिया टोला गांव के पास छात्रा का शव मिला। वही जानकारी के अनुसार छात्रा सहेलियों उसे अक्सर यह कहा करती थी यदि वह फेल हो गई तो अपने मम्मी-पापा को क्या बता पाऊंगी। इस बात का डर अक्सर उसे सताया करता था। यह बात पुलिस को उसके पड़ोस में रहने वाली सहेलियों ने बताई।

संभावना जताई जा रही है कि अनुत्तीर्ण होने के कारण छात्रा ने वैनगंगा नदी में कूदकर खुदकुशी की है, वहीं थाना प्रभारी ने बताया कि संभावनाएं जताई जा रही है कि परीक्षा में अनुत्तीर्ण होने के कारण छात्रा ने नदी में कूदकर खुदकुशी की है छात्रा के कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

 
Sorry, there are no polls available at the moment.

तीन दिन से लापता आईटीआई कॉलेज की छात्रा अनामिका चौहान ने वैनगंगा नदी में लगाई छलांग

सिवनी। तीन दिन से लापता आईटीआई कॉलेज की छात्रा अनामिका चौहान का शव शुक्रवार को वैनगंगा नदी छपारा में मिला। शव मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई, वही छपारा पुलिस ने पंचनामा कार्यवाही के बाद शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। साथ ही मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है।

छपारा थाना प्रभारी सौरव पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि 3 दिन से आईटीआई छात्रा लापता थी। छात्रा गांव गंगाढाना निवासी अनामिका पिता मानसिंह चौहान (19) छपारा में किराए के कमरे में रहकर आईटीआई कॉलेज की पढ़ाई कर रही थी। 21 अगस्त को आईटीआई कॉलेज का परिणाम आया था इसमें वह अनुत्तीर्ण हो गई थी। इसके बाद वह दोपहर से अपने कमरे से निकलकर किसी को कुछ भी बताए कहीं चली गई। देर शाम तक जब वापस नहीं लौटी तो उसकी सहेलियों ने अनामिका के परिजनों को सूचना दी। जहां परिजनों ने गुमशुदगी दर्ज कराई।

शुक्रवार को छपारा वैनगंगा नदी के भरिया टोला गांव के पास छात्रा का शव मिला। वही जानकारी के अनुसार छात्रा सहेलियों उसे अक्सर यह कहा करती थी यदि वह फेल हो गई तो अपने मम्मी-पापा को क्या बता पाऊंगी। इस बात का डर अक्सर उसे सताया करता था। यह बात पुलिस को उसके पड़ोस में रहने वाली सहेलियों ने बताई।

संभावना जताई जा रही है कि अनुत्तीर्ण होने के कारण छात्रा ने वैनगंगा नदी में कूदकर खुदकुशी की है, वहीं थाना प्रभारी ने बताया कि संभावनाएं जताई जा रही है कि परीक्षा में अनुत्तीर्ण होने के कारण छात्रा ने नदी में कूदकर खुदकुशी की है छात्रा के कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

[avatar]